Home News Intraday Trading Rules in Hindi | 5 Golden Rules

Intraday Trading Rules in Hindi | 5 Golden Rules

0
intraday trading rules in hindi

अगर आप भी शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते है या ट्रेडिंग शुरू करना चाहते है तो यह पोस्ट आपको जरूर पड़ना चाहिए। आपने अक्सर सुना होगा की शेयर मार्केट एक ऐसी जगह है जहा सिर्फ एक प्रतिशत ही लोग सफल होते हैं और बाकी निन्यानबे प्रतिशत लोग असफल हो जाते हैं ,इसके पीछे एक बड़ी वजह होती है की लोग जल्दी अमीर बनने के चक्कर में इसे एक जुएं की तरह खेलने लगते है और थोड़े ही समय में अपना सारा पैसा उड़ा कर मार्किट से बाहर हो जाते हैं। 

इसी को देखते हुए हम आपको कुछ ऐसे नियम बताने जा रहे हैं जो की शेयर मार्केट में आपको टिकने के लिए और फायदेमंद बनने के लिए  जरूरी हैं। 

1 .Learning

सबसे महत्वपूर्ण नियम है लर्निंग यानी की सीखना और ये इसलिए जरुरी है क्यूंकि अगर आप को knowledge नहीं होगा तो आप जरूर शेयर मार्किट के टिप्स के जाल में फंस जाओगे और एक बात समझ लीजिए अगर आप टिप्स पर काम करते हो तो आपको आज नहीं तो कल नुक्सान का ही सामना करना पड़ेगा और अंत में आपको खाली हाथ ही मार्किट से लौटना पढ़ेगा। इसीलिए हमेशा कुछ नया सीखने की इच्छा आपके अंदर होनी चाहिए। आप किताबो से और यूट्यूब से बहुत कुछ सिख सकते है। 

2 . Trading Strategy | Intraday Trading Rules in Hindi

Intraday Trading Rules में से एक महत्वपूर्ण चीज़ हैं ट्रेडिंग स्ट्रैटजी ,जब तक आपके पास एक ऐसी स्ट्रैटेजी होनी चाहिए जिसे आपने खुद कई बार प्रैक्टिस किया हो भले ही वो कितनी भी सिंपल क्यों न हो लेकिन यह जरुरी है की आपने वो स्ट्रैटेजी खुद बहुत बार प्रैक्टिस की हो और यह जरुरी नहीं है की आप उसे लाइव मार्किट में ही टेस्ट करे आप पेपर ट्रेडिंग करके की भी अपनी स्ट्रैटेजी की को टेस्ट कर सकते हैं।  यहाँ पर ध्यान देने वाली बात यह है की कोई भी स्ट्रैटेजी 100 प्रतिशत सही नहीं होती हैं लेकिन आप कुछ नियमो के साथ ट्रेडिंग करेंगे तो 50 प्रतिशत सक्सेस रेट वाली स्ट्रैटेजी भी आपको प्रॉफिटेबल बना सकती है। 

3 .Stop Loss | Intraday Trading Rules in Hindi

Stop Loss  एक ट्रेडर के सफर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा होता है , स्टॉप लॉस ही वह चीज होती है जो एक ट्रेडर को लम्बे समय तक टिकने में सहायता करती है और यह भी एक सच है यदि आप लम्बे समय तक स्टॉक मार्किट में टिक गए तो आपको प्रॉफिटेबल होने से कोई नहीं रोक सकता हैं। अगर आपका स्टॉप लॉस हिट होता है तो आपको परेशान नहीं होना चाहिए बल्कि stop loss आपको बड़े नुक्सान होने से बचाता हैं और ये ट्रेडिंग का एक जरुरी हिस्सा है। 

4 .Over trading  से बचे

over trading एक ऐसी गलती है जो हमेशा आपको एक सफल ट्रेडर बनने से रोकती हैं। over trading से कई बार आपके नुक्सान बड़े हो जाते हैं और कई बार तो आपके प्रॉफिट भी नुक्सान में बदल जाते हैं  इसलिए over ट्रेडिंग से हमेशा बचने की कोशिश करनी चाहिए, इससे बचने के लिए आपको कुछ पक्के नियम बनाने होंगे और पूरी तरह फॉलो भी करना होगा ,आपअपने नियम अपने हिसाब से बना सकते है जैसे कुछ उदहारण नीचे लिखे 

  • अपनी कुल कैपिटल का 1 प्रतिशत या 2 प्रतिशत से ज्यादा का नुक्सान नहीं करेंगे। 
  • एक दिन में ट्रेड लेने की संख्या पहले ही निर्धारित कर ले फिर चाहे आपके ट्रेड फायदे में गए हो या नुक्सान में। 
  • एक दिन में अधिकतम Loss की सीमा पहले से तय कर ले और किसी भी हाल में उससे ज्यादा का नुक्सान ना उठाये।
  • अगर आप प्रॉफिट में हैं तो उसके बाद कभी भी पुरे प्रॉफिट का स्टॉप लॉस न ले ,कोशिश करे की कुछ प्रॉफिट के साथं ही अपना दिन ख़तम करे। 

5 .Stop loss trailing –

स्टॉप लॉस ट्रेल करना उतना ही जरुरी है जितना स्टॉप लॉस लगाना कई बार मार्किट आपके टारगेट के पास से ही पलट जाता है और आपका स्टॉप लॉस ट्रिगर हो जाता हैं ,ऐसी स्तिथि कई बार मार्किट में आती है और ऐसी स्तिथि से बचने के लिए स्टॉप लॉस को ट्रेल करना बहुत जरुरी होता है, लेकिन ट्रेलिंग के भी कुछ नियम होते है और उसी के अनुसार आपको अपना स्टॉप लॉस ट्रेल करना चाहिए। 

यह भी पढ़े –Zerodha में कैसे लगाते है StopLoss

अगर आपको ये लेख पसंद आया है तो कमेंट जरूर करें। 

NO COMMENTS

Exit mobile version